Home » BJP Himachal » भ्रष्टाचार व कांग्रेस को कोई अलग नहीं कर सकता

भ्रष्टाचार व कांग्रेस को कोई अलग नहीं कर सकता

Date: 5th Nov 2017

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज हिमाचल प्रदेश के ऊना, कुल्लू और पालमपुर में आयोजित विशाल रैलियों को संबोधित किया और राज्य की जनता से प्रदेश के विकास के लिए श्री प्रेम कुमार धूमल के नेतृत्व में भाजपा की तीन-चौथाई बहुमत से सरकार बनाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि हिमाचल में चारों ओर, हर तरफ कमल ही कमल खिला नजर आ रहा है और चुनाव से पहले ही कांग्रेस ने मैदान छोड़ कर हिमाचल में अपनी हार स्वीकार कर ली है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस और भ्रष्टाचार अलग हो ही नहीं सकते, ये दोनों एक-दूसरे के पर्यायवाची हैं। उन्होंने कहा कि पूरी कांग्रेस पार्टी जमानती पार्टी है, जब इसके नेता ही भ्रष्टाचार के मामले में जमानत पर हैं तो वे भ्रष्टाचार दूर करने की बात कैसे कर पायेंगे। उन्होंने कहा कि यदि हमें भविष्य बचाना है तो देश को भ्रष्टाचार रूपी बुराई से बाहर निकालना पड़ेगा। श्री मोदी ने कहा कि देवभूमि में दानववृत्ति की कोई जगह नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि खनन माफिया, वन माफिया, ट्रांसफर माफिया, टेंडर माफिया और ड्रग माफिया – इस पांच प्रकार की कांग्रेस की दानववृत्ति से हमें हिमाचल प्रदेश को बचाना है। उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी के समय ही तब के वित्त मंत्री श्री यशवंत राव चह्वाण ने बड़े नोट बंद करने की वकालत की थी लेकिन इंदिरा गांधी जी ने सत्ता बचाए रखने के लिए इस पर अमल करने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि यदि तब इंदिरा जी ने कांग्रेस से ज्यादा हिन्दुस्तान की चिंता की होती तो हमें इतना बड़ा काम नहीं करना पड़ता, कांग्रेस ने नहीं किया इसलिए मुझे करना पड़ा। उन्होंने कहा कि यदि नोटबंदी का निर्णय नहीं लिया जाता तो शायद कभी पता भी नहीं चल पाता कि कश्मीर के आतंकवादियों को पैसा कहाँ से आता है और उनपर शिकंजा भी नहीं कस पाता। उन्होंने कहा कि कश्मीर की जनता हमारे साथ हो गई क्योंकि उन्हें पता चल गया कि पैसा तो पाकिस्तान से आता है और ये हमें गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आये दिन कश्मीर में पत्थरबाजी होती थी, अब ऐसी घटनाएं नहीं के बराबर हो रही हैं। उन्होंने कहा कि यदि कांग्रेस 8 नवंबर को ब्लैक डे मनायेगी तो यह देश एंटी ब्लैकमनी डे मनाकर रहेगा। उन्होंने कहा कि 8 नवंबर को ब्लैक डे मना कर कांग्रेस यह दवाब बनाना चाहती है कि मोदी और आगे कुछ न करे लेकिन मैं रुकने वाला नहीं हूँ, जिन्होंने देश को लूटा है, उन्हें देश को लौटाना ही पड़ेगा। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के कारण तीन लाख कंपनियों के काले कारोबार का पता चला, केवल 5000 कंपनियों के सैम्पल टेस्ट में ही लगभग 4000 करोड़ रुपये के काले धन का पता चला है, पूरे तीन लाख कंपनियों की जांच होगी तो पता नहीं, कितने के काला-धन का पता चलेगा।

श्री मोदी ने कहा कि हमने एक राष्ट्र, एक कर के स्वप्न को साकार करते हुए जीएसटी लागू किया। उन्होंने कहा कि जीएसटी से कारोबार और आसान होगा। उन्होंने कहा कि किसी भी व्यापारी अथवा व्यापारी संगठन ने कभी भी इसका विरोध नहीं किया है लेकिन किसी भी बड़े परिवर्तन में थोड़ी-बहुत समस्याएं होती हैं, मैंने पहले ही कहा था कि तीन महीनों में देखेंगे कि कहाँ-कहाँ कठिनाइयां आ रही हैं और जहां-जहां दिक्कतें आयेंगी, उसे दूर करने के प्रयास किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों जीएसटी काउंसिल की बैठक में व्यापार जगत की जो समस्याएं आईं, उसका हमने समाधान किया, कुछ और सुधार बाकी है जो राज्यों के विरोध के कारण अटक गए थे। उन्होंने कहा कि हमने इन समस्याओं को दूर करने के लिए कमिटियाँ बनाई और आगामी 9-10 नवंबर को होने वाली जीएसटी काउंसिल की बैठक उन समस्याओं को भी दूर कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार सबसे चर्चा करके देश की भलाई के लिए उत्तम से उत्तम निर्णय लेती है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में बेनामी संपत्ति की बीमारी ऐसी फैल गई थी कि मध्यम वर्ग का जीना मुश्किल हो गया था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने क़ानून तो बनाया लेकिन 20 साल तक इस ठंडे बस्ते में दाल दिया क्योंकि उनको खुद अपने फंसने का डर था। उन्होंने कहा कि हमने इसे लागू किया, जिन्होंने देश की गरीब जनता का हक़ छीन कर पैसा इकट्ठा किया है, उन्हें देश की जनता को लौटाना ही पड़ेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आजादी के 70 साल हो गए, सवा सौ करोड़ देशवासी कब तक इंतजार करेंगे। उन्होंने कहा कि हमने पीने का पानी, बच्चों की अच्छी पढ़ाई, युवाओं की कमाई और बुजुर्गों की दवाई की व्यवस्था शुरू किया है। उन्होंने कहा कि सरकारें पहले भी थीं, अधिकारी पहले भी थे लेकिन आज ग्राम सड़क योजना के तहत ज्यादा सड़कों का निर्माण क्यों हो रहा है, पहले एक दिन में जितने राष्ट्रीय राजमार्ग बनते थे, आज उससे लगभग दुगुना बन रहा है, जितनी रेल लाइनें पहले बनती थी आज उसका दुगुना निर्माण हो रहा है, आखिर यह संभव कैसे हुआ? उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए क्योंकि केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार का एकमात्र उद्देश्य देश के हर वर्ग, हर क्षेत्र का सर्वांगीण विकास करना है। उन्होंने कहा कि हमारे देश का भविष्य एक ही बात पर निर्भर करता है कि हम विकास को प्राथमिकता कैसे दें, हर दिशा में विकास कैसे करें, गरीब से गरीब तक विकास कैसे पहुंचाएं और युवा पीढ़ी की तरक्की के लिए काम कैसे करें इसलिए हमारी कोशिश यह है कि देश में विकास पर ही चर्चा होनी चाहिए।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस को हिमाचल प्रदेश के विकास से महरूम रखने के लिए सजा देने का वक्त आ गया है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश की तरक्की में यदि विकास का डबल इंजन लग जाय तो देवभूमि देश के अग्रणी राज्यों में शुमार हो सकता है। उन्होंने हिमाचल की जनता का आह्वान करते हुए कहा कि हिमाचल की जनता इस बार के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को इतनी मजबूती के साथ सजा दे ताकि पूरे देश में यह संदेश जाय कि हिमाचल प्रदेश अब भ्रष्टाचार को सहन नहीं कर सकता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: